Image default
City News

सुशांत सिंह राजपूत की मौत की जांच राजनीति की भेंट चढ़ गयी है!

मुंबई (व्हाट्सएप- 8875530336). सुशांत सिंह राजपूत के मौत की जांच राजनीति की भेंट चढ़ गयी है!
यह कहना है प्रमुख नेता दिलीप सिंह राजपूत का, जिन्होंने फिल्म अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत को गुजरे पूरा एक साल हो जाने के बाद भी इस मामले मेें कोई नतीजा नहीं निकलने पर नाराजगी जताते हुए कहा कि- सरकार एवं जांच एजेंसियों द्वारा जांच की जगह जान बूझ कर समय गुजारा गया है.
जांच एजेंसियों को जल्दी से जल्दी अपनी फाइनल रिपोर्ट जनता के सामने रखने की अपील करते हुए दिलीप सिंह राजपूत ने जांच एजेंसियों सेे राजपूत समाज को सड़क पर उतरने को मजबूर न करने का अनुरोध भी किया है.
दिलीप सिंह राजपूत का कहना है कि सुशांत सिंह राजपूत की मौत की जांच राजनीति की भेंट चढ़ गयी है. कोई भी जांच एजेंसी अब तक इस मामले में कोई ठोस एवं संतोषजनक जवाब देने को तैयार नहीं है.
अब भी सुशांत की मौत पर सस्पेंस कायम है. अब भी यही सवाल बना हुआ है कि सुशांत ने आत्महत्या की थी या उसकी हत्या हुई थी?

दिलीप राजपूतः सम्राट पृथ्वीराज पर आधारित फिल्म का नाम सम्मान से दिया जाए!

प्रदीप द्विवेदी. सम्राट पृथ्वीराज पर बनी फिल्म के टाइटल को लेकर करणी सेना ने नाराजगी जताई है और कहा है कि सम्राट पृथ्वीराज का नाम सम्मान से दिया जाना चाहिए.
खबर है कि अभिनेता अक्षय कुमार की “पृथ्वीराज” फिल्म के निर्माता आदित्य चोपड़ा, लेखक-निर्देशक चंद्र प्रकाश द्विवेदी और यशराज फिल्म्स डिस्ट्रीब्यूटर हैं.
इस फिल्म में अक्षय कुमार ने सम्राट पृथ्वीराज चौहान की भूमिका निभाई है, जो 5 नवम्बर 2021 को रिलीज होनी है.
इसका प्रोमो टीजर आने के बाद करनी सेना ने बेहद नाराजगी जताई है और करणी सेना  मुम्बई अध्यक्ष दिलीप राजपूत ने फिल्म का प्रदर्शन ना करने दिया जाए, इसके लिए बृहनमुंबई पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह और उपायुक्त जोन-9 अभिषेक त्रिमुखे के दफ्तर में शिकायत भी दर्ज कराई है.
इस शिकायत में कहा गया है कि- भावनाओं को आहात करने के जुर्म में “पृथ्वीराज” फिल्म के निर्माता यशराज फिल्म्स के खिलाफ मामला दर्ज करें और डिजिटल प्लेटफार्म पर किये जा रहे फिल्म के प्रोमो के प्रसारण पर तत्काल प्रभाव से रोक लगाएं.
महान पराक्रमी योद्धा, दिल्ली के सिंहासन पर बैठनेवाले अंतिम हिन्दू सम्राट, राजपूत शासक पृथ्वीराज चौहान के जीवन पर आधारित एक फिल्म का निर्माण यश राज फिल्म्स द्वारा किया जा रहा है. इस फिल्म के निर्देशक डॉ. चंद्रप्रकाश द्विवेदी हैं और मुख्य भूमिका अक्षय कुमार निभा रहे हैं. निर्माणाधीन फिल्म का नाम “पृथ्वीराज” रखा गया है. उच्च प्रतिष्ठित सम्राट, राष्ट्र गौरव, भारत भूमि के वीर योद्धा पर बन रही इस फिल्म को “पृथ्वीराज” नाम देना आधा-अधूरा और असम्मानजनक है. इस तरह का संबोधन करोड़ों दिलों को ठेस पहुंचाने वाला है, भावनाओं को आहात करने वाला है.
शिकायत में कहा गया है कि- यकीनन, डिजिटल प्लेटफार्म पर जारी इस फिल्म के प्रोमोशन से हमारे भावनाओं को ठेस पहुंचा रही है. इससे पहले भी कई महान हस्तियों के जीवनी पर फिल्में बन चुकी हैं, लेकिन किसी भी निर्माता-निर्देशक ने इस तरह का दुस्साहस न करते हुए हर फिल्म को उचित नाम, सम्मान और न्याय दिया है.
बड़ा सवाल यह है कि सम्राट पृथ्वीराज चौहान जैसे विशाल और विराट व्यक्तित्व पर सही फिल्म बनाने वालों की सोच इतनी संकीर्ण कैसे हो सकती है?
करणी सेना, फिल्म निर्माताओं से अपेक्षा करती है कि वे इस विषय पर व्यापक शोध करें, यह सुनिश्चित करें कि वे किसी की भावनाओं को आहात तो नहीं कर रहे हैं या इतिहास की गलत व्याख्या तो नहीं कर रहे हैं.  
यही नहीं, करणी सेना ने स्क्रिप्ट साझा करने का भी जिक्र किया है, जिससे इतिहासकारों की टीम उसे सत्यापित कर सके, लेकिन निर्माता-निर्देशक स्क्रिप्ट का निरीक्षण साझा करने या देने के लिए तैयार नहीं हैं. ऐसी स्थिति में, अपनी आशंका का समाधान करने हेतु फिल्म के निर्माता से कहा गया है कि वे यह लिखित में दंे कि- फिल्म में इतिहास के साथ कोई छेड़-छाड़ नहीं की गयी है, न ही तथ्यों को गलत दर्शाया गया है और न ही फिल्म की पटकथा विकृत है.
शिकायत में कहा गया है कि- ऐसा प्रतीत होता है कि फिल्म के निर्माता सकारात्मक रूप से सहयोग या प्रतिक्रिया देने के लिए तैयार नहीं हैं, लिहाजा हम यह बताना चाहेंगे कि उनके लिए यह एक फिल्म हो सकती है, लेकिन हमारे लिए धरती सुपुत्र पृथ्वीराज चौहान एक विरासत, आदर्श, प्रेरणा और सम्मान हैं. राष्ट्र-गौरव पृथ्वीराज चैहान की महिमा और महानता से समझौता नहीं किया जा सकता है. निर्माता के लिए यह फिल्म मनोरंजन और आय का साधन हो सकती है, परन्तु हमारे लिए सम्राट पृथ्वीराज चौहान हमारा गौरव हैं.
इसलिए, आपसे अनुरोध है कि आप उक्त शिकायत का संज्ञान लें और हमारी भावनाओं को ठेस पहुंचाने के लिए निर्माता यश राज फिल्म्स के विरूद्ध कानून सम्मत कार्रवाई करें.
बहरहाल, इस फिल्म के निर्माता-निर्देशक को करणी सेना की भावनाओं को समझते हुए, उनकी भावनाओं का आदर करते हुए, उन्हें चाही गई जानकारियां शेयर करनी चाहिएं और सुझावों के सापेक्ष उचित बदलाव भी करने चाहिएं! 

Related posts

डीग महोत्सव…. पर्यटन विभाग के कार्यक्रमों में राजस्थानी कलाकारों को दिया जायेगा अवसर!

BollywoodBazarGuide

Happy Birthday Lata Mangeshkar: TV actor share what they love about the legend….

BollywoodBazarGuide

दैनिक उदयपुर….

BollywoodBazarGuide

Leave a Comment

Subscribe here to get latest daily updates...