Image default
Editor's Picks

पानीपत फिल्म के विरोध में राजस्थान के मंत्री!

प्रदीप द्विवेदी
फिल्म निर्देशक आशुतोष गोवारिकर की फिल्म पानीपत रिलीज होने के साथ ही राजस्थान में दर्शकों के निशाने पर आ गई है. पानीपत फिल्म में महाराजा सूरजमल के गलत चित्रण को लेकर इसका विरोध शुरू हो गया है और सोमवार को भरतपुर के महाराजा सूरजमल चौराहे पर विरोध के साथ धरना-प्रदर्शन होगा.
राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने तो अपना विरोध दर्ज करवाया ही है, प्रदेश की कांग्रेस सरकार के मंत्री विश्वेन्द्र सिंह, गोविंद सिंह डोटासरा आदि ने भी नाराजगी जाहिर की है.
इस फिल्म को लेकर प्रदेश के मंत्री और महाराजा सूरजमल के वंशज विश्वेन्द्र सिंह ने कड़ी आपत्ति दर्ज की है, उनका कहना है कि- यह अत्यंत दुख की बात है कि ऐतिहासिक तथ्यों से छेड़छाड़ करते हुए भरतपुर के महाराजा सूरजमल जाट जैसे महान पुरूष का चित्रण ‘पानीपत‘ फिल्म में बेहद गलत तरीके से किया गया है. मेरा मानना है कि हरियाणा, राजस्थान और उत्तर भारत के जाट समुदाय में भारी विरोध को देखते हुए इस फिल्म पर प्रतिबंध लगा देना चाहिए अन्यथा कानून व्यवस्था बिगड़ सकती है!
मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा का कहना है कि- फिल्म पानीपत में राजस्थान की आन बान शान के प्रतीक महाराजा सूरजमल के किरदार को गलत चित्रित किया गया है, जिसे किसी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. महाराजा सूरजमल की वीरता, पराक्रम और शौर्य के किस्से राजस्थान के कण-कण में विद्यमान है. फिल्म निर्देशक को तुरंत प्रभाव से माफी मांगकर इस गलती को ठीक करना चाहिए. आए दिन इस तरह की खबरें सामने आ रही हैं जो वास्तव में चिंता का विषय है. जिसका जब मन करता है इतिहास के वीरों की वीरता को अपने हिसाब से आंककर, गलत तथ्यों के साथ फिल्म बनाकर लोगों की भावनाओं के साथ खिलवाड़ कर देता है. यह तुरंत बंद होना चाहिए.
प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने ट्वीट किया- स्वाभिमानी, निष्ठावान और हृदय सम्राट महाराजा सूरज मल का फिल्म निर्माता द्वारा फिल्म पानीपत में किया गया गलत चित्रण निदंनीय है.
इसी तरह सांसद हनुमान बेनीवाल ने भी इस फिल्म का विरोध करते हुए ट्वीट किया कि-इतिहास को गलत तथ्यों के आधार पर प्रस्तुत करने से समाज में रोष हैं, महाराजा सूरजमल एक महान अजेय योद्धा रहे हैं. मेरी फिल्म निर्माताओं व सेन्सर बोर्ड से अपील हैं जल्द से जल्द विवादित दृश्यों को हटाया जाए.
महाराजा सूरजमलजी हमारे देश का गौरव है, उनके इतिहास के साथ छेड़छाड़ बर्दाश्त नहीं की जाएगी. फिल्म पानीपत में उनके इतिहास के दृश्य के साथ जो छेड़छाड़ की गई है उसको नहीं हटाया गया तो देश की कानून व्यवस्था बिगड़ेगी और इसका अंजाम निर्माता निर्देशकों को भुगतना पड़ेगा!
*हनुमान बेनीवाल….
https://twitter.com/i/status/1203700328148766720

Related posts

Ira Sone on doing bold scenes in web series: If Radhika Apte, Bhumi Pednekar can do it, why can’t I?

BollywoodBazarGuide

I would love to share this story with my grand kids one day: Mohsin Khan

BollywoodBazarGuide

Soniya Kaur…. My brothers are really important to me!

BollywoodBazarGuide

Leave a Comment