Image default
Entertainment

अभिनव शुक्ला…. ऐसा रोल करूं जो रोल रियल लाइफ में नहीं कर सकते?

अभिनव शुक्ला बाॅलीवुड के फेमस एक्टर हैं, जिन्होंने अनेक फिल्मों और सीरियल में काम किया है, bollywoodbazarguide.com ने उनका इंटरव्यू लिया, तो उनके सबसे अलग विचार और लाइफ स्टाइल का भी पता चला, देखिए, क्या कहते हैं अभिनव शुक्ला….
आप इंजिनियरिंग के स्टूडेंट थे, ग्लैमर वल्र्ड में कैसे आ गए?
मैं जब छोटा था तो मेरी मां कहती थी- बेटा! बहुत जरूरी है स्वस्थ रहना, अच्छा दिखना, बेसिक हाइजिन है उसको मेंटेन करना, तो मैंने उसे सीरियसली लिया कि मैं अच्छा दिखूं, अच्छा पहनूं, तो वह एक चीज थी अंदर…. मैं जब स्कूल में था, तब वहां प्ले होते, मैं हर साल प्ले करता, तब था कि मुझे एक्टिंग करनी है!
यहां तक कैसे आना हुआ?
जब मैं इंजिनियरिंग कर रहा था तब एक कांटेस्ट हो रहा था, मैंने प्रोफाइल वहां भेजा, वहां सलेक्ट हो गया, फाइनल तक पहुंचा, टाॅप सिक्स में पहुंच गया…. तो उससे बड़ा कांफिडेंस बढ़ गया, पहली बार मुंबई गया, पहली बार स्टेज पर चढ़ा, ये सब चीजे थीं तो कांफिडेंस बूस्ट हो गया.
मुंबई में शुरूआत कैसे हुई?
मैंने इंजिंनियरिंग कंपलीट की, फिर वापस मुंबई पहुंच गया. कुछ स्ट्रगल किया. फिर किसी ने बोला- हम टीवी शो बना रहे हैं, रोल करो, मैंने कहा- नहीं, मैं फिल्म करूंगा…. उन्होंने बड़ा जोर लगाया, और….. और मैं मान गया…. और बहुत अच्छा किया कि मैं मान गया! ऐसे जरनी शुरू हुई….
अपनी पसंद का रोल कब मिला, पहचान कब बनी?
देखिए, अपनी पसंद का रोल तो मुझे अब तक नहीं मिला है…. मैं सोच रहा हूं कि मुझे खुद लिखना पड़ेगा, और…. मुझे खुद बनाना पड़ेगा!
लेकिन, मेरा शो था जर्सी नं 10, उसके बाद मैने श्वेता तिवारी के साथ शो किया- जाने क्या बात हुई, उसमें सिटी वाली आडियेंस थी, उसमें काफी पापुलरिटी हो गई, फिर मैंने शो किया- गीत, एक हजारों में मेरी बहना है…. सुपरहिट था, काफी लोगों ने बोला अच्छा है, लेकिन उसमें क्या हुआ कि उसमें जो रोल प्ले किया था, मुझे फिर-फिर उसी तरह के रोल के लिए काॅल आते थे…. एनआरआई डाॅक्टर…. जिसको भी एनआरआई डाॅक्टर चाहिए होता था, वह मुझे फोन कर देता, तो मुझे बहुत मुश्किल हुई…. आप शो कर चुके हैं और आपने एक केरेक्टर प्ले किया है, और…. अब सब आपको ऐसे रोल के लिए फोन कर रहे हैं…. और…. लाइन में लगे हुए हैं…. एक साइड बहुत पैसा भी देने को तैयार हैं, और…. एक साइड लगता है कि नहीं यार, मैंने अगर दो बार रोल कर दिया तो लोग मुझे कोई दूसरा रोल ही नहीं देंगे! तो…. मुझे तोड़ना पड़ा, मैंने गेप किया…. फिर फिल्म की, दुबारा शो किया…. फिर फिल्म की, फिर टीवी शो किया….
फिल्म का एक्सप्रियेंस कैसा रहा?
बढ़िया रहा! जो पहली फिल्म थी वह बड़े ग्रांड लेवल पर
शूट हुई…. बहुत मंहगी फिल्म थी…. बड़े-बड़े लोग आए थे माॅरिशस में…. फिल्म से सीखने को बहुत कुछ मिलता है…. मैंने फिल्म अक्सर की जरीन खान के साथ, वह भी हम बाहर शूट करके आए थे, माॅरिशस में…. सीखने को बहुत कुछ मिलता है, और…. फिल्म में वक्त होता है, आपके पास टाइम होता है अपने उपर काम करने का…. टीवी में नहीं होता!
आप कैसा रोल करना चाहते हैं?
वाल्टर वाइज जैसा…. जो केरेक्टर है वह एक साइंटिस्ट है, लेकिन वह क्राइम में इन्वोल्व हो जाता है, तो…. मुझे ऐसा रोल करना है जिसमें साइंस इन्वोल्व हो, क्राइम हो, बुरा काम कर रहे हैं, फिर भी लोग तुमको पसंद करें!
मतलब…. पाॅजेटिव-नेगेटिव के बजाय एंटी हीरो जैसा काम?
बिल्कुल-बिल्कुल! देखिए, मैं अपनी लाइफ में बहुत अच्छा हूं…. बड़ा ही नेक किस्म का इंसान हूं, तो मुझे ऐसा रोल करना है, जिसमें ऐसा रोल करने को मिले जो मैं रियल लाइफ में नहीं कर सकता हूं!
आपके शौक भी कुछ अलग तरह के हैं?
देखिए आजकल एक टर्म चली है मिनिमलिस्ट्…. बहुत कम, मतलब…. हमको जीने के लिए, खुश रहने के लिए बहुत कम चाहिए होता है! हम लिविंगरूम में, बेडरूम में, बाथरूम में बहुत कम चीजे यूज करते हैं, जबकि वहां बहुत-सी चीजे पड़ी होती हैं…. वो कभी-कभी यूज करते हैं आप…. तो खुश रहने के लिए और अच्छा रहने के लिए बहुत कम चीजे चाहिए, तो मैं उसमें बिलिव करता हंू…. और, मैं नेचर के बहुत पास रहता हंू. जब भी मुझे वक्त मिलेगा तो…. जंगल पसंद है, ट्रेकिंग पसंद है, यू नो! मैं खुद, मेरा जो गांव है वहां आज तक बैल से खेत जोतते हैं. मैं छोटा था तो जाता था. वहां दादी थोड़ी-सी चीजों में कमाल का खाना बना देती थी. वहां फ्रीज नहीं होता था, दूध दो बार उबाल कर रखती थी, रात को फिर उबाल कर रखती थी, वो सब चीजे देखी हैं…. और अब मेरे पास सबकुछ है, तो…. मुझे वो सब चीजें अच्छी लगती है…. एक बार फिर जाना उस टाइम में, यू नो! कम चीजें थी और लोग खुश थे!
जंगल में तो कई तरह की घटनाएं भी हो जाती है?
जी, मेरे साथ हुई हैं! मैं एक बार फंस गया था, तो मुझे रेस्क्यू करना पड़ा, बिकाॅज…. हम एक ऐसी चोटी पर चढ़ गए थे, जहां के लिए रस्सी, प्रोपर ट्रेनिंग चाहिए…. हम ऐसे ही चढ़ गए और फिर नीचे नहीं उतरा गया, तो फिर मैंने मैसेज भेजा सबको, दूसरे दिन टीम आई और हमको उतारा!
आप दोनों टीवी में हैं, इसके क्या फायदे-नुकसान हैं?
कोई नुकसान नहीं है, फायदे ही फायदे हैं! दोनों एक-दूसरे को अच्छी तरह से समझते हैं…. बल्कि अच्छी बात है यह.
एक-दूजे के लिए टाइम निकल जाता है?
निकल जाता है…. क्वालिटी टाइम निकल जाता है!
* bollywoodbazarguide.com और अपने फेंस के लिए संदेश के लिए उन्होंने आभार व्यक्त करते हुए कहा कि वे जो कुछ भी हैं, उनकी बदौलत ही हैं, ऐसा प्रेम बनाए रखें!

……………………

myshopprime.com/collections/88516164
myshopprime.com/collections/88516164

Hair Care Products!
*Type: Variable
*Used For: Variable
*Hair Type: Variable
*Quantity: Variable
*Delivery: Within 6-8 business days.

*This catalog has products that are non-returnable
⚡⚡ Hurry, 6 units available only

*Note: If link is not active, save sender’s phone number in contacts
Hi, sharing this amazing collection with you.

 *If you want to buy any product, click on the link or message me….

https://myshopprime.com/collections/88516164

Related posts

Manndakini Bora…. I left a good government job for music!

BollywoodBazarGuide

आरती ने कहा- कृष्णा की नजरों में सक्सेस तो… मैं खुश!

BollywoodBazarGuide

Aseem Arrora geared up to write Akshay Kumar starrer “Bell Bottom”

BollywoodBazarGuide

Leave a Comment

Subscribe here to get latest daily updates...