स्मार्ट फोन पर माइक्रो फिल्म इंडस्ट्री की दस्तक!

प्रदीप द्विवेदी. बीसवीं सदी की शुरूआत में सिनेमा हॉल से पब्लिक एटंरटेनमेंट का सफर शुरू हुआ तो जाते-जाते टीवी ने प्राइवेट एंटरटेनमेंट का तौफा दिया और अब नई सदी में… स्मार्ट फोन पर पॉकेट एंटरटेनमेंट का समय आ गया है! पहले उपन्यास पर तीन घंटे की फिल्में बनती थी लेकिन … Continue reading स्मार्ट फोन पर माइक्रो फिल्म इंडस्ट्री की दस्तक!