Image default
Honey Money

नॉलेज ऑफ नेल्स: खून ही नहीं नाखून भी जांचे !

बेस्ट ऑफ हनीमनी. आमतौर पर शरीर का हाल जानने के लिए खून की जांच की जाती है, लेकिन नाखून भी बहुत कुछ कहते हैं, इसलिए नाखूनों को सजाने संवारने से पहले उनकों भी जांच लेंगे तो बहुत कुछ जान लेंगे आप अपने बारे में… और ये इंफोर्मेशन ब्यूटी को मेंटेन करने के लिए भी बहुत जरूरी है!
चेहरे के बाद सबसे ज्यादा लोगों का ध्यान नाखून और हाथ पर जाता है. बातचीत में तो अक्सर हाथों का उपयोग होता है, इसलिए यह जरूरी है कि नाखूनों की खास देखभाल की जाए, क्योंकि जब आप बोलते हैं तो आपके हाथ अच्छे दिखने चाहिए जिसमें नाखूनों की सुंदरता का खास रोल है!
नाखून कैसे बढ़ते हैं?
नाखून कैरेटीन नाम के प्रोटीन फाइबर के बनते हैं, जो प्रोटीन बालों में भी पाया जाता है. जैसे-जैसे नाखून बढ़ते हैं तो कोशिकाएं पहले मल्टीप्लाई होती हंै, मैच्योर होती हैं और अंत में मर जाती हैं. मरने के बाद इसमें प्रोटीन भर जाता है जो नाखून को टफ बनाता है.
नाखून कितनी तेजी से बढ़ते हैं?
नाखून बढऩे की दर बदलती रहती है पर एक आम इंसान के नाखून एक साल में डेढ़ इंच तक बढ़ जाते हैं. नाखून की ग्रोथ व्यक्ति के न्यूट्रिशनल स्टेट्स और ब्लड के रोटेशन पर डिपेंड करती है. अगर आप राइट हैंडेड हैं तो आपके राइट हैंड के नाखून तेजी से बढ़ेंगे और लेफ्ट हैंडेड हैं तो लैफ्ट हैंड के नाखून तेजी से बढ़ते हैं. अगर आपकी अंगुलिया लंबी हैं तो भी आपके नाखून तेजी से बढ़ेंगे. तीस साल से कम उम्र के लोगों के नाखून तेजी से बढ़ते हैं. युवाओं के नाखून भी तेजी से बढ़ते हैं.
नाखून को तेजी से कैसे बढ़ाएं?
* अपनी न्यूट्रिशनल आदत में सुधार करें.
* ज्यादा डाइटिंग और लो प्रोटीन डाइट नाखून की ग्रोथ रोकते हैं.
* पर्याप्त प्रोटीन और कैलोरीज लें.
* आपकी डाइट में विटामिन्स और मिनरल्स भी पर्याप्त मात्रा में होने चाहिए क्योंकि ये भी नाखून की ग्रोथ बढ़ाने में मदद करते हैं.
* दिन में एक बार प्रोटीन ड्रिंक लें.
* किडनी, थाइरइड से संबंधित और अन्य बीमारियां भी नाखून को कम करती हैं.
* आपका रक्त प्रवाह भी सही होना चाहिए.
* कुछ एक्टविटीस जैस टाइपिंग, पियानो बजाना आदि हाथों में ब्लड रोटेशन को सही रखती हैं.
नाखून की देखभाल…
हेल्दी नाखून को बहुत केयर और मेन्टेन करने की जरूरत होती है ताकि नाखून स्ट्रॅांग और ब्यूटीफुल बने रहें. कुछ खास बातें जिससे आप नाखूनों की सही केयर कर सकें.
* नाखून को टूल की तरह यूज न करें. जैसे किसी चीज को उठाने ढक्कन खोलने और कुछ स्क्रेच करने के लिए नाखून का प्रयोग न करें.
* बर्तन या कपड़े धोते समय ग्लब्स पहनें.
* नाखूनों को चबाएं नहीं और ना ही पुरानी नेल पॉलिश को खुरचें.
* नेल पॉलिश लगाएं, इसकी परत या क्लीयर नेल पॉलिश नाखूनों को मजबूत बनाती है.
* अगर आप नेेल पॉलिश रिमूवर प्रयोग करते हैं तो ऐसी पॉलिश को अवॉइड करें जिसमें एसीटोन हो क्योंकि ये नाखून को ड्राई बनाते हैं और नाखून टूटने की वजह बन जाते हैं.
* अपने हाथों को दिन में दो बार मॉश्चराइज करें. मॉश्चराइज करते समय लॉशन को नाखून में रब करें.
कुछ लोंगों के नाखूनों में पीलापन क्यों होता है?
* पीले नाखून इंटरनल हेल्थ डिसऑर्डर को शो करते हैं. लीवर, फेंफड़े, डाइबिटीज और किडनी संबंधित बीमारियों के कारण नाखून में पीलापन होता है.
* नाखून में होने वाली फंगस भी पीलेपन को बढ़ाती है.
* स्मोकिंग करने वालों के नाखूनों में भी पीलापन आ जाता है.
* फ्रेश लेमन ज्यूस में अंगुलिया डालने से पीलापन कुछ हद तक खत्म हो सकता है.
* ज्यादा नेल पॉलिश यूज करने से नाखूनों को ऑक्सीजन नहीं मिल पाती और पीलापन आ जाता है. इससे बचने के लिए आप पहले क्लीयर बेस लगाएं और फिर नेल पॉलिश यूज करें.
टूटे हुए नाखून को कैसे करें रिपेयर?
* रिपेयर करने से पहलेे नेल पॉलिश रिमूवर का उपयोग करके पॉलिश हटाएं और साबुन वाले गरम पानी से धोंए और जल्दी सुखाएं.
* बॉन्डिंग ग्लू जैसे सूपर ग्लू का इस्तेमाल करें.
नाखून में रिजेस के कारण…
कभी आपने नाखून में रिजेस (धारियां) देखें हैं. ये दो तरह के होते हैं. हॉरिजेन्टल और वर्टीकल.
वर्टीकल रिजेस साधारण होते हैं, ये किसी गंभीर बीमारी को नहीं बताते.
हॉरीजेन्टल रिजेस आपकी बीमारी और मेडीकल कन्डीशन को शो करते हैं.
ब्यूज लाइन इसका एक मुख्य प्रकार है ये गहरी धारियां होती हैं जो दिखने में थोड़ी डार्क होती हैं इसके कई कारण होते हैं जैसे नेल बैड, मेल न्यूट्रीशन, मेडीकेशन और मेटाबॉलिक डिसऑर्डर जैसे डाइबिटीज. अगर आपको इस तरह की कोई समस्या है तो तुरंत डॉक्टर से कंसल्ट करें. इसे कुछ हद तक दूर करने टिप्स.
* बफिंग टूल से रिजेस को स्मूथ करें.
* अपने नाखून की शाइन को बढ़ाएं.
* हर रात नैचुरल ऑयल की मसाज करें. जोजोबा, एवोकेडो और ग्रेपसीड का यूज करें.
* ऑलिव ऑयल या नैचुरल ऑयल को गर्म करें और लगाएं इसे हफ्ते में एक या दो बार करें और अपने हाथ कॉटन ग्लब्स से ढक लें.
* नाखून को कांटे और उन्हें स्कवायर शेप दें जो नाखून पर पडऩे वाले प्रेशर को कम करेगा.
* ब्रश का यूज करें.

Related posts

Honey Money Success story….

BollywoodBazarGuide

कोई फर्क नहीं बेटा-बेटी में… एक महान पहल!

BollywoodBazarGuide

बाल की खाल: लेट्स डू हैयरीकल्चर!

BollywoodBazarGuide

Leave a Comment